चीन की लाईटो का विरोध ,कुम्हार लौटे पुश्तैनि धन्धे की ओर

दिवाली त्योहार की तैयारियां पूरे देश में जोर-शोर से चल रही है, लेकिन इस बार की सूबे में चीनी लाइटों के विरोध के चलते मिट्टी के दीयों की दिवाली एक बार फिर लौट आई है. यही कारण है कि मिट्टी के दीयों को बनाने वाले कुम्हार काफी खुश हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक बलिया जिले में इस बार चीनी लाइट्स और दीयों को छोड़कर लोग मिट्टी की दीयों से दिवाली मना रहे हैं और महानगरों में कमाने गए जिले के कई कुम्हार अब अपने-अपने घरों को लौटकर अपने पुश्तैनी धन्धे में लग गए है.

बताया जाता है कि बलिया जिले में इस दिवाली चीन निर्मित झालरों व लाइटों के बजाय मिट्टी के दीयों की जमकर ख़रीदारी कर रहे है. जिसके चलते कुम्हारों को माल सप्लाई का जबर्दस्त आर्डर मिला है और कुम्हार खुशी-खुशी रात-दिन मेहनत करके व्यापारियों के आर्डर को पूरा करने में लगे

Leave a Reply