पाकिस्तानी बच्ची को तत्काल ओपन हार्ट सर्जरी कराने के लिए मेडिकल वीजा जारी करने का दिया आश्वासन -विदेश मंत्री सुषमा

नई दिल्ली: पिछले हफ्ते पाकिस्तान द्वारा भारत पर मानवीय मुद्दों का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाने के बावजूद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने एक पांच वर्षीय पाकिस्तानी बच्ची को तत्काल ओपन हार्ट सर्जरी कराने के लिए मेडिकल वीजा जारी करने का आश्वासन दिया है. भारत के एक निजी अस्पताल के चिकित्सक के अनुरोध पर जिसमें उसने पांच साल की नीबहा राशिद को ओपन हार्ट सर्जरी की जरूरत बताई थी, सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया कि माफ कीजिए, बच्ची को काफी तकलीफ सहनी पड़ रही है. हम तुरंत वीजा जारी करेंगे.

एक अलग अनुरोध के जवाब में विदेश मंत्री ने कहा कि इस्लामाबाद में स्थित भारतीय उच्चायोग शमीम अहमद, जिन्हें लीवर प्रत्यारोपण की जरूरत है और उनके दो तीमरदारों आमना शमीम और वजीहा अली के वीजा आवेदनों पर भी विचार करेगा. विदेश मंत्री ने सोमवार रात को सकीना यूनुस, मुबारक अली, तारिक हुसैन, फरीहा उस्मान और मुहम्मद असीम भट्टी को भी वीजा जारी करने का आश्वासन दिया. इन सभी को भारत में लीवर प्रत्यारोपण कराना है.

मारिया दानिश, हामना दानिश और सारा दानिश को भी भारत में बोन मैरो प्रत्यारोपण कराने के लिए मेडिकल वीजा जारी करने का आश्वासन दिया गया. स्वतंत्रता दिवस पर विदेश मंत्रालय ने घोषणा की थी कि भारत सभी जरूरतमंद पाकिस्तानी मरीजों को मेडिकल वीजा देगा. पिछले हफ्ते पाकिस्तान ने भारत पर मानवीय मुद्दों के जरिए ‘राजनीतिकरण’ करने का आरोप लगाया था.

पाकिस्तानी विदेश विभाग के प्रवक्ता मोहम्मद फैजल ने कहा था कि भारत द्वारा पाकिस्तानियों को चयनात्मक रूप से मेडिकल वीजा जारी करना ‘अफसोसजनक’ है.

Leave a Reply