आगरा में योगी सरकार की सोती पुलिस अपराधियो को कैसे पकडे

  • ।।योगी पुलिस कुंभकरण की नींद  वीडियो हुआ वायरल पुलिस प्रशासन में हलचल।।

    • मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म हत्या के बाद भी ना जागी योगी पुलिस•

    •पुलिस कप्तान अमित पाठक ने कुंभकरण मामला अगर लिया  संज्ञान में तो हो सकती है पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही•

    राजेश तौमर(जिला ब्यूरो)आगरा,वैसे तो सरकारें पुलिस प्रशासन कानून व्यवस्था को लेकर  लाख दावे करती हैं  लेकिन जब  हकीकत सामने आती है तो सरकार के दावों की पोल  जनता के सामने  योगी पुलिस की खुलती ही नजर आती है अब इसे सरकार की  लापरवाही कहें या कुछ और  जिस कारण उनकी ही पुलिस सरकार के दावों को   ठेंगा दिखाकर योगी पुलिस कहीं  अंगूर की बेटी के  नशे में टल्ली  तो कभी वाहनों से अवैध वसूली   घूसखोरी तो कहीं रात में आराम फरमाते पुलिसकर्मियों के  वीडियो तो  आम हो गए हैं  अभी कुछ दिन पहले ही ताजनगरी में नशे में पुलिसकर्मी का राहगीर पर जूता मारता हुआ वीडियो वायरल हुआ था। इसके अलावा कई बार अवैध वसूली के वीडियो वायरल हो चुके हैं और अब रात में आराम फरमाते पुलिसकर्मी के वीडियो वायरल हो रहे हैं यह जब है जब दो दिन के  अंदर दो मासूम बच्चियों के साथ दुष्कर्म और हत्या की घटना सामने आई पुलिस कप्तान अमित पाठक गंभीर है लेकिन इलाकाई पुलिस सुधरने का नाम नहीं ले रही 8 साल की मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई उसे मौत की नींद सुला दिया गया वहीं दूसरी ओर थाना एत्माद्दौला  इलाके में 6 साल की मासूम बच्ची की इज्जत तार-तार हुई और योगी पुलिस है कि कुंभकरण की नींद में सो रही है शहर में . अपराधों का ग्राफ बढ़ रहा है और चोर उचक्कों की  मौज हो रही है लेकिन रात में थाना लोहा मंडी की पीआरवी  21 पर तैनात पुलिसकर्मियों का सोते हुए वीडियो वायरल हो रहा है इस वीडियो में आप साफ तौर पर देख सकते हैं जिस पुलिस को रात मैं सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी जाती है मगर वही योगी पुलिसकर्मी अपने अधिकारी के सुरक्षा के आदेशों को दरकिनार करते हुए  गाड़ी को किनारे लगा कर आराम फरमाते हैं फिर चाहे अपराधी धमाचौकड़ी करें या फिर अपराध का ग्राफ आसमान छूए  योगी पुलिसकर्मियों को कोई फर्क नहीं पड़ता पीआरवी 21 पर तैनात पुलिसकर्मियों के सोते हुए दो वीडियो और दो फोटो भी मिले हैं पी आर वी नंबर 21 और 100 पर तैनात पुलिसकर्मी सड़क किनारे गाड़ी लगा कर रात भर सोते हैं। वही इससे पूर्व भी खंदौली थाने का मुंशी थाने के अंदर अंदर चादर ओढ़कर सोने का वीडियो वायरल हुआ था
    एक तरफ जिले के पुलिस कप्तान अपराध पर नियंत्रण और अपराधियों का खात्मा करने के लिए अधीनस्थों को दिशा निर्देश दे रहे हैं तो दूसरी तरफ अधीनस्थ भी वरिष्ठ अधिकारियों के आदेश को हवा में उड़ाते हुए रात भर चैन की नींद सोते हैं। इतना ही कुछ दिन पूर्व  एत्माद्दौला पुलिस का वीडियो चौकी पर तैनात पुलिसकर्मी गाड़ी के अंदर सो रहे थे। और जब मीडिया का कैमरा चला तो खाकी वाले साहब सुरक्षा के लिए सड़क की ओर निकल पड़े थे। आखिर रात में सोती  पुलिस अपराध और अपराधियों पर कैसे लगाम लगाएगी। ये समझ में नही आता। जिले के पुलिस कप्तान अमित पाठक ने कुंभकरण पीआरबी 21  मामले को संज्ञान में अगर लिया। तो वीडियो के आधार पर चिन्हित कर सोने वाले पुलिसकर्मियों पर कार्यवाही हो सकती है जिससे पुलिस प्रशासन में हलचल मची  है।

Leave a Reply