स्कूली बस के 200 मीटर गहरी खाई में गिरने से 26 स्कूली बच्चों, 2 अध्यापकों समेत 30 लोगों की मौत

  • मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जताया दुख, दिए न्यायिक जांच के आदेश
  • मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपए की आ​र्थिक सहायता की घोषणा
  • वजीर राम सिंह पठानिया मेमोरियल स्कूल की  थी बस
  • हादसे बाद से स्कूल प्रबंधक परिवार समेत गायब 
  • घायलो का होगा मुफ्त होगा इलाज
  • घटनास्थल पर ही हो गई थी 17 की मौत 
  • दुर्घटना शाम करीब साढ़े चार बजे घटी, अधिकांश मृतक बच्चे खवाड़ा गांव से हैं।

हिमाचल प्रदेश कांगड़ा, धर्मशाला /जस्ट एक्शन न्यूज़ ब्यूरो नरेश कुमार:-हिमाचल प्रदेश के कांगडा जिले में एक भीषण सड़क हादसा हुआ है। एक स्कूल बस के 200 मीटर गहरी खाई में गिरने से 26 स्कूली बच्चों, 2 अध्यापकों समेत 30 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई के घायल होने की सूचना है।

 नूरपुर के एसडीएम आबिद हुसैन ने बताया कि गंभीर रूप से घायलों को पठानकोट अस्पताल में ले जाया गया है जबकि कुछ अन्य को नूरपुर के अस्पताल में ही भर्ती कराया गया है।   बताया जा रहा है कि बस में 35 बच्चों समेत 40 लोग सवार थे। मारे गए बच्चे नर्सरी से पांचवीं कक्षा के हैं। सभी बच्चों की उम्र 10 साल से कम है। छह घायलों को प्राइवेट अस्पताल पठानकोट में भेजा गया है। राहत और बचाव के लिए एनडीआरएफ की टीम बुलाई गई है। एसडीएम नूरपुर ने कहा कि घटना में कुल 26 बच्चों, दो अध्यापकों समेत 29 लोगों मौत हो चुकी है।

 

मलकवाल से ठेहड़ के बीच हुआ हादसा
जानकारी के

 अनुसार, निजी स्कूल की यह बस छुट्टी के बाद बच्चों को घर छोड़ने जा रही थी कि नूरपुर-मलकवाल के पास पलटने के बाद लगभग डेढ़ सौ फीट गहरी खाई में जा गिरी।  शुरुआती जानकारी के अनुसार नूरपुर-मलकवाल के पास पलटने के बाद लगभग डेढ़ सौ फीट गहरी खाई में जा गिरी है। यह हादसा मलकवाल से ठेहड़ के बीच हुआ। घायल बच्चों को सिविल अस्पताल नूरपुर में भर्ती करवाया गया है। हादसे की जानकारी के बाद बच्चों के परिजन गहरे सदमे में हैं। बताया जा रहा है कि हादसे के बाद से स्कूल के प्रबंधक का कोई सुराग नहीं है। सिर्फ प्रबंधक नहीं बल्कि उनका पूरा परिवार ही भूमिगत हो गया है।

  •  

Leave a Reply