पुलिसकर्मियों की डकैती बयां कर रही योगी सरकार :कांग्रेस

सौरभ भट्ट

जस्ट एक्शन लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस का कहना है कि प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद भय और अराजकता के माहौल के साथ-साथ जंगलराज का बोलबाला है। लगातार हो रही घटनाओं के क्रम में पुलिस कर्मियों द्वारा की गयी लूट बीजेपी और आदित्यनाथ सरकार की उपलब्धि को बयान कर रहा है।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने आईपीएन कहा कि जिस उत्तर प्रदेश की पुलिस को मित्र पुलिस और जनता का रक्षक कहा जाता था वहीं पुलिस आज आदित्यनाथ की सरकार में विभिन्न आपराधिक, लूट और हत्या की घटनाओं में संलिप्त है और बीजेपी सरकार सुशासन का झूठा दावा करके आत्ममुग्ध है। जिस तरह गोसाईंगंज थाने के पुलिसकर्मियों जिसमें दरोगा, सिपाही शामिल रहे हैं, ने कोयला व्यापारी के घर डाका डाला है उसने सरकार सहित पूरे पुलिस विभाग को शर्मशार कर दिया है और यह प्रमाणित किया है कि उत्तर प्रदेश की सरकार कानून व्यवस्था को संभालने में पूरी तरह अक्षम है। पुलिस पर मुख्यमंत्री का नियंत्रण समाप्त हो चुका है।

चाहे आगरा में पैसे लेकर इनकाउन्टर का मामला हो या लखनऊ में वसूली को लेकर अंतर्राष्ट्रीय कम्पनी एप्पल के वरिष्ठ अधिकारी विवेक तिवारी की गोली मारकर हत्या हो, इस तरह की तमाम घटनाओं ने आदित्यनाथ सरकार और पुलिस के काले चेहरे को उजागर किया है। गृह मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि जबसे बीजेपी की सरकार उ0प्र0 में बनी है बराबर बलात्कार, छिनैती, डकैती, हत्या, राहजनी जैसे अपराधों में बेतहाशा वृद्धि हुई है।

प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस सवाल करती है कि आखिर कब तक बीजेपी सरकार उप्र में जंगलराज कायम रखेगी। उन्होंने कहा कि पार्टी मांग करती है कि ऐसे पुलिस कर्मियों और इस संगठित अपराध में शामिल अधिकारियों, नेताओं जो इनको प्रश्रय देते हैं पर यूपीकोका के तहत कार्यवाही की जाय ताकि भविष्य में इस तरीके की घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो।

 

Leave a Reply